ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे 2021. वैश्विक पुनर्चक्रण दिवस 2021. Global Recycling Day 2021 in Hindi.

ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे 2021. वैश्विक पुनर्चक्रण दिवस 2021. Global Recycling Day 2021 in Hindi.

Hits: 67

इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि; ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे (Global Recycling Day) प्रत्येक साल, क्यों मनाया जाने लगा है? क्या दुनिया के संसाधन वाकई में समाप्त होने लग गए हैं? जो हम; रीसाइक्लिंग जैसी तकनीक के सहारे, नए संसाधन जुटा रहे हैं. या फिर; आज के बदते हुए प्रदूषण को कम करने के लिए, रीसाइक्लिंग जैसी तकनीक अनिवार्य हो गयी है. जिससे हम सतत विकास जैसे लक्ष्यों को आसानी से हासिल कर सकें. साथ ही; ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे 2021 के थीम #Recycling Heroes में आखिर किन Heroes की बात कही गयी है?

इसके अतिरिक्त; हम यह भी जानेंगे कि, प्लास्टिक को रीसाइक्लिंग करने की सही तकनीक क्या है? और; पुराने या टूट चुके मोबाइल (ई-वेस्ट) को, सही से रीसाइक्लिंग कैसे कर सकते हैं? जिससे कम से कम प्रदूषण हो. दरअसल ई-वेस्ट से लेड, कैडमियम, बेरेलियम जैसे विषाक्त पदार्थ निकलते हैं. जो मनुष्य में विभिन्न प्रकार की बीमारियों सहित पर्यावरण को भी प्रदूषित करते हैं. इसके अलावा; हम यह भी जानेंगे कि; Plastic Waste Management Rules तथा E-Waste Management Rules में किस प्रकार हमारी सरकार action लेती है. आइये विस्तार से जानते हैं –

ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे थीम 2021 (Global Recycling Day Theme 2021) – ” #Recycling Heroes”

रीसाइक्लिंग क्या है

कचरे (अपशिष्ट) से; संसाधनों को पृथक करने की प्रक्रिया को, रीसाइक्लिंग कहते हैं. जिससे; इन संसाधनों से, फिर से नई वस्तुओं का निर्माण किया जा सके. रीसाइक्लिंग को दुनिया में सातवाँ संसाधन माना गया है.

"ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे"

ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे (Global Recycling Day)

ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे; 2018 से, प्रत्येक साल 18 मार्च को मनाया जाता है. 18 मार्च 2018 को; इस कार्यक्रम की पहल, ब्यूरो ऑफ़ इंटरनेशनल रीसाइक्लिंग (बी.आई.आर.) के द्वारा की गयी. तभी से हर साल; यह कार्यक्रम, पूरे विश्व में 18 मार्च को मनाया जाता है.

बी.आई.आर., विश्व स्तर पर ऐसा रीसाइक्लिंग उद्योग संगठन है, जो 70 देशों के 700 से अधिक प्राइवेट कंपनियों और 40 राष्ट्रीय व्यापार महासंघ का प्रतिनिधित्व करता है.

अब सवाल ये उठता है कि; आखिर ये ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे (Global Recycling Day) मानते क्यों हैं ?

ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे (Global Recycling Day) मनाने के उद्देश्य

ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे (Global Recycling Day) को मनाने के पीछे निम्न उद्देश्य हैं –

  1. रीसाइक्लिंग की तकनीकियों और सामान का पूरी दुनिया में प्रचार प्रसार करना. जिससे लोग; रीसाइक्लिंग के बारे में, अधिक से अधिक जान सकें.
  2. प्राकृतिक संसाधनों को संरक्षित करना. दरअसल; रीसाइक्लिंग के कारण, कचरे (अपशिष्ट पदार्थ) का बार-बार प्रयोग होने से, प्राकृतिक संसाधन सुरक्षित रहते हैं.
  3. रीसाइक्लिंग से CO2 का उत्सर्जन बहुत कम होता है. इसीलिए; लोगों में इसके प्रति जागरूकता पैदा करना.
  4. संसाधनों के सतत विकास के लक्ष्यों को पूरा करने में रीसाइक्लिंग तकनीक बेहद कारगर साबित होती है.

रीसाइक्लिंग किये जाने वाले पदार्थ

रीसाइक्लिंग से निम्न संसाधनों का पुनः सदुपयोग किया जाता है.

1. ई-कचरा (Electronic Waste)

सभी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक सामान; जब एक लम्बे समय के बाद बेकार पड़ जाते हैं, तो उन्हें ही ई-कचरा कहते हैं. ई-कचरे की श्रेणियों को 03 वर्गों में बाँट सकते हैं.

ई-कचरे की श्रेणियां ई-कचरा
White Goods वाशिंग मशीन, A.C. आदि
Brown Goods T.V., कैमरा आदि
Grey Goods Computer, printer, scanner, mobile phone आदि

ई-कचरे को अनियंत्रित तरीके से जलाने, धोने या गाढ़ने से वायु प्रदूषण, मृदा प्रदूषण और जल प्रदूषण होता है. क्योंकि; इलेक्ट्रोनिक वस्तुओं में हानिकारक भारी धातुएं होती हैं. जो प्रदूषण के साथ साथ मानव शरीर को बुरी तरह प्रभावित करती है.

इलेक्ट्रोनिक उपकरण विषाक्त पदार्थ मानव शरीर पर कुप्रभाव
मदर बोर्डबेरेलियमफुफ्फुस
प्रिंटेड सर्किट बोर्डलेड, कैडमियमवृक्क, यकृत, तंत्रिका तंत्र
कैथोड ट्यूबलेड ऑक्साइड, बेरियम, कैडमियमह्रदय, यकृत, मांसपेशी
स्क्रीन मॉनिटरमरकरीमस्तिष्क, भ्रूण का अविकसित होना
कंप्यूटर बैटरीकैडमियमवृक्क, यकृत

इसीलिए; ई-कचरे को, सही तरीके से नष्ट करना, बहुत ही जरुरी हो जाता है.

ई-कचरे के सुरक्षित निस्तारण की विधियाँ

इसे निम्न प्रकार से किया जाता है –

1. रीसाइक्लिंग (Recycling)

विभिन्न इलेक्ट्रोनिक उपकरण; जैसे- कंप्यूटर, मदर बोर्ड, प्रिंटर, मोबाइल आदि को पुनः प्रयोग में लाया जा सकता है. अतः; विभिन्न धातुओं और प्लास्टिक से इन उपकरणों को अलग कर पुनः प्रयोग में लाया जाता है.

2. भस्मीकरण (Incinerations)

इसमें ई-कचरे को इंसीनिरेटर के अन्दर 900-1000 C तापमान पर पूर्ण रूप से बंद चैम्बर में जलाया जाता है. इससे; ई-कचरे में उपस्थित हानिकारक भारी पदार्थ की विषाक्तता काफी कम हो जाती है.

इस प्रक्रिया से “अपशिष्ट से उर्जा” (Waste to Energy) भी प्राप्त कर सकते हैं. इसमें ई-कचरे को जलाकर; भाप तथा विद्दयुत उत्पन्न की जा सकती है.

इंसीनिरेटर की चिमनी में “वायु प्रदूषण नियंत्रण व्यवस्था” (A.P.C.S.) के तहत फ़िल्टर लगाया जाता है. जो; चिमनी से निकलने वाली हानिकारक गैस को फ़िल्टर करने का काम करती है.

3. एसिड के द्वारा धातुओं की प्राप्ति

सान्द्र एसिड का प्रयोग कर; ई-कचरे में से धातुओं, जैसे- ताम्बा, एल्युमीनियम, चांदी, प्लैटिनम आदि धातुओं को प्राप्त कर लिया जाता है. बाकि; बचे-खुचे प्लास्टिक का रीसाइक्लिंग कर लिया जाता है.

4. पुनः उपयोग (Re-Use)

पुराने इलेक्ट्रोनिक उपकरणों; जैसे- कंप्यूटर, मोबाइल,प्रिंटर आदि को ठीक करके पुनः उपयोग हेतु बनाया जाता है.

2. प्लास्टिक रीसाइक्लिंग

रीसाइक्लिंग से पहले; प्लास्टिक को, उनके रेजिन कोड के आधार पर अलग किया जाता है. इसके बाद प्लास्टिक को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटा जाता है. अंततः; प्लास्टिक के इन टुकड़ों को, पिघलाया जाता है और टिकिया के रूप में रखा जाता है. जिससे; बाद में इन प्लास्टिक की टिकिया का प्रयोग पुनः किया जा सके.

प्लास्टिक की रीसाइक्लिंग के लिए निम्न विधियाँ प्रयोग में लायी जाती हैं-

  1. मोनोमर रीसाइक्लिंग
  2. थर्मल डीपोलिमराइजेशन
  3. ताप संपीडन

3. अपशिष्ट पदार्थ

अपशिष्ट पदार्थों के अंतर्गत कांच की बोतलों से लेकर, घरों से आने वाला बचा हुआ भोजन शामिल होता है. अपशिष्ट पदार्थों के रीसाइक्लिंग की प्रक्रिया निम्न तरीके से सम्पादित की जाती है-

(i). भौतिक पुनर्चक्रण

इसमें प्लास्टिक के डिब्बे, एल्युमीनियम के डिब्बे, कांच से बनी हुई वस्तुएं, प्लास्टिक के अन्य प्रकार; जैसे- PVC, LDPE, PP, PS आदि को रीसायकल किया जाता है.

(ii). जैविक पुनर्चक्रण

इसमें जैविक अपशिष्टों; जैसे- बचा हुआ भोजन, चायपत्ती, पौधों की अन्य सामग्रियों आदि को खाद के रूप में परिवर्तित कर लिया जाता है.

ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे 2021 की थीम : Recycling Heroes

ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे 2021 की थीम है – Recycling Heroes. इस थीम के तहत ऐसे संगठनो, स्थानों तथा मानव समुदाय को आगे लाना है; जिन्होंने रीसाइक्लिंग के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान दिया है.

आइये जानते हैं – रीसाइक्लिंग के क्षेत्र में अपनाये जाने वाले कुछ नियमों के बारे में.

E-Parisaraa

E-Parisaraa Pvt. Ltd.; सरकार द्वारा अधिकृत इलेक्ट्रोनिक कचरा recycler है. जो; 2005 से भारत में, ई-कचरे को रीसाइक्लिंग करने में अपना योगदान दे रहा है.

ई-अपशिष्ट प्रबंधन नियम, 2011

ई-कचरे को अवैज्ञानिक तरीके से जलाये जाने से रोकने के लिए; पर्यावरण, वन तथा जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, भारत सरकार ने ई-अपशिष्ट प्रबंधन नियम, 2011 को पूरे भारत में लागू किया है. हालाँकि; 2016 में इसमें संशोधन किया गया है.

  • इस नियम के दायरे में CFL बल्ब और मरकरी पारा युक्त लैंप शामिल हैं.
  • इसमें कुल 21 प्रकार के इलेक्ट्रोनिक उपकरणों को शामिल किया गया है.
  • पहली बार इसमें; इलेक्ट्रोनिक उपकरणों के निर्माताओं को, विस्तारित निर्माता जिम्मेदारी (EPR) के अंतर्गत शामिल किया गया है.
  • नियमों का उलंघन करने पर दंड को भी सुनिश्चित किया गया है.

प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन अधिनियम, 2016

इस अधिनियम को 2016 में तैयार किया गया था. जबकि; इसका संशोधन 2018 में किया गया है. इस अधिनियम के अंतर्गत;

  • प्लास्टिक से उत्पन्न कचरे को, उनके उत्पादकों और ब्रांड मालिकों को एकत्र करने की जिम्मेदारी दी गयी थी.
  • इस नियम का प्रभाव क्षेत्र गावों तक कर दिया गया है. जबकि; पहले इनका प्रभाव केवल नगरपालिकाओं तक ही सीमित था.

निष्कर्ष

तो देखा आपने; ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे के माध्यम से, पूरी दुनिया में रीसाइक्लिंग के प्रचार प्रसार को बढ़ावा दिए जाने का प्रयास किया जा रहा है. ब्यूरो ऑफ़ इंटरनेशनल रीसाइक्लिंग की इस शानदार पहल के कारण; दुनिया के सातवें संसाधन के रूप में प्रचलित रीसाइक्लिंग, आज बहुत तेज़ी से पूरी दुनिया में न केवल, नए संसाधनों का निर्माण कर रहा है. बल्कि; प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण भी कर रहा है.

आशा है; आपको इस आर्टिकल से जरुर कोई नवीन जानकारी मिली होगी. अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगे, तो Please नीचे comment करके बताये. और इसे अपने दोस्तों के साथ share जरुर करें. ताकि उन्हें भी यह नवीन जानकारी मिल सके.

Follow My Channel – “Geo Facts” On

Also Read My “BEST ARTICLES”

Summary
ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे 2021. वैश्विक पुनर्चक्रण दिवस 2021. Global Recycling Day 2021 in Hindi.
Article Name
ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे 2021. वैश्विक पुनर्चक्रण दिवस 2021. Global Recycling Day 2021 in Hindi.
Description
इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि; ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे (Global Recycling Day) प्रत्येक साल, क्यों मनाया जाने लगा है? क्या दुनिया के संसाधन वाकई में समाप्त होने लग गए हैं? जो हम; रीसाइक्लिंग जैसी तकनीक के सहारे, नए संसाधन जुटा रहे हैं. या फिर; आज के बदते हुए प्रदूषण को कम करने के लिए, रीसाइक्लिंग जैसी तकनीक अनिवार्य हो गयी है. जिससे हम सतत विकास जैसे लक्ष्यों को आसानी से हासिल कर सकें. साथ ही; ग्लोबल रीसाइक्लिंग डे 2021 के थीम "#Recycling Heroes" में आखिर किन Heroes की बात कही गयी है? इसके अतिरिक्त; हम यह भी जानेंगे कि, प्लास्टिक को रीसाइक्लिंग करने की सही तकनीक क्या है? और; पुराने या टूट चुके मोबाइल (ई-वेस्ट) को, सही से रीसाइक्लिंग कैसे कर सकते हैं? जिससे कम से कम प्रदूषण हो. दरअसल ई-वेस्ट से लेड, कैडमियम, बेरेलियम जैसे विषाक्त पदार्थ निकलते हैं. जो मनुष्य में विभिन्न प्रकार की बीमारियों सहित पर्यावरण को भी प्रदूषित करते हैं. इसके अलावा; हम यह भी जानेंगे कि; Plastic Waste Management Rules तथा E-Waste Management Rules में किस प्रकार हमारी सरकार action लेती है. आइये विस्तार से जानते हैं -
Author
Publisher Name
Geo Facts

This Post Has 15 Comments

  1. Priyanka

    Very knowledgeable…….thank you sir ji

  2. Dr. Sharad Visht

    Very informative Dr Ashutosh.

  3. Anonymous

    Nice

  4. Anonymous

    ज्ञानवर्धक आर्टिकल 🙏🙏🙏

  5. दिनेश पुण्डीर

    Dr बिन्दास

  6. Anonymous

    Thank you sir

  7. Anonymous

    Good job sir 👍..Thanks for the information…

Leave a Reply